Friday, July 13, 2018

DARD-E- latest shayari

DARD-E-DIL

दुनिया बहुत मतलबी है ;
यहां साथ कोई न देगा ;
मुफ्त का यहाँ कफ़न नहीं मिलता ;
तो बिन गम प्यार कोण देगा :
⧭⧭⧭

दर्द तो बहुत है दिल में ;
पर दिखा नहीं सकते ;
करते है मुहब्बत तुमसे; 
पर बता नहीं सकते :
⧭⧭⧭

आप से दूर होकर हम जायेगे कहा ;
आप जैसा दोस्त हम पाएंगे कहा ;
दिल को कैसे संभाल लेंगे ;
पर आँखों के आंसू हम छुपायेंगे कहा :
⧭⧭⧭

सुन पगली तेरा दिल भी धड़केगा ;
तेरी आँख भी फड़केगी ;
अपनी ऐसी आदत डालूंगा ;
के हर पल मुझसे मिलने के लिए तड़पेगी :
⧭⧭⧭

मई तुम्हे गुलाब क्या दू वो तो ;
पल भर में बिखर जायेगा ;
अगर लेना है तो दिल ले लो ;
जो हर धड़कन के साथ ;
तेरा नाम गुनगुनायेंगे :
⧭⧭⧭⧭⧭⧭

1 comment:

  1. hello friends please follow this shayari blog do not forget please share

    ReplyDelete